दुमकाः गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि होंगे मुख्यमंत्री

 

दुमका। मुख्यमंत्री रघुवर दास 26 जनवरी 2018 को गणतंत्र दिवस के मौके पर उप राजधानी दुमका में आयोजित होने वाले राजकीय समारोह के मुख्य अतिथि होंगे। दुमका उपायुक्त मुकेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री रघुवर दास दुमका के गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि होंगे। मुख्यमंत्री के आगमन और गणतंत्र दिवस की तैयारियों के लिए दुमका उपायुक्त ने सोमवार को समाहरणालय सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक की।

गणतंत्र दिवस को लेकर उपायुक्त ने दिया निर्देश

उपायुक्त मुकेश कुमार ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिया कि नगर की साफ-सफाई पूरी प्राथमिकता के साथ की जाय। शहर के सभी चौक-चैराहों पर लगे महापुरूषों की प्रतिमाओं की साफ-सफाई के साथ रंग-रोगन किया जाय। राजकीय समारोह के अवसर पर परिवहन व्यवस्था ठीक ढंग से होना चाहिये। पार्किंग की व्यवस्था सही तरीके से करें ताकि समारोह के उपरांत मुख्य अतिथि के जाने के पश्चात सभी अतिथि सुगमता से प्रस्थान कर सके तथा किसी प्रकार की भीड़ या जाम ना लगे।



राष्ट्रीय पर्व पर हर घर सजे

उन्होंने कहा कि 26 जनवरी की पूर्व संध्या पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन भव्य होना चाहिये। उपायुक्त ने नागरिकों से यह अपील किया कि गणतंत्र दिवस का उल्लास हम सब अपने घरों के रंगरोगन और प्रकाशोत्सव के रूप में मनाकर प्रकट करें। यह हमारा राष्ट्रीय पर्व है। इसे हमसब मिलकर पूर्ण उत्साह एवं उल्लास के साथ मनाये।  उन्होंने यह भी कहा कि बेहतरीन साज-सज्जा वाले पांच मकानों को प्रशंसा पत्र दिया जाएगा।

निकाली जाएंगी आकर्षक झांकियां

पुलिस लाईन में संस्कृति और विकास से सम्बद्ध भव्य झांकियां निकाली जायेगी। झांकियों का उद्देश्य सरकार के विभिन्न योजनाओं तथा संदेश लोगों तक पहुंचाना है। उन्होंने सभी विभागों को निर्देश दिया कि चूंकि झाकियाँ गणतंत्र दिवस समारोह में महत्वपूर्ण आकर्षण का केन्द्र रहती है अतः इनका प्रदर्शन उच्च स्तर का हो एवं प्रदर्शित थीम तथा सदस्यों में बेहतर तालमेल हो। इसके लिए सभी विभाग विषय चुनकर शीघ्र सूचित करें। बेहतरीन झांकियों को ही परेड में शामिल किया जाएगा।



15 जनवरी से होगा पुर्वाभ्यास

उपायुक्त ने परेड और राष्ट्रगान का पूर्वाभ्यास 15 जनवरी 2018 से आरम्भ करने का निर्देश दिया। इसके लिए परिवहन तथा सुरक्षा की समुचित व्यवस्था हो। उन्होंने कस्तुरबा विद्यालय का बैण्ड पार्टी एवं एसएसबी प्लाटून को भी 26 जनवरी 2018 के परेड समारोह में सम्मिलित करने का निर्देश दिया।

प्रभात फेरी में शामिल नहीं होंगे छोटे बच्चे  

प्रभात फेरी के सम्बन्ध में उपायुक्त ने निर्देश दिया कि वर्ग 8 से 12 तक के बच्चों को ही प्रभात फेरी में सम्मिलित किया जाय। छोटे बच्चों को देर तक खड़े नहीं रखा जाना चाहिये। जिला शिक्षा पदाधिकारी को उन्होंने निर्देश दिया इस सम्बन्ध में सभी विद्यालयों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये जाये। बच्चों में राष्ट्रध्वज के सम्मान के सम्बन्ध में भी जागरूक किया जाय। भूलवश यदि किसी बच्चे से राष्ट्रध्वज गिर जाये तो जिसकी भी नजर पड़े वह उसे ससम्मान अविलम्ब उठा लें।



मेडिकल टीम रहे तैयार

उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि एम्बुलेंस एवं चिकित्सा टीम का दल बनाते हुए इसकी सूचना दिनांक 18 जनवरी 2018 तक उपलब्ध करा दें।

बैठक में मौजूद अधिकारी

बैठक में दुमका के उपायुक्त मुकेश कुमार, उप विकास आयुक्त शशि रंजन, सांसद प्रतिनिधि विजय कुमार सिंह, नगर पर्षद अध्यक्षा अमिता रक्षित, अपर समाहर्ता इन्दु गुप्ता, आईटीडीए निदेशक शिशिर कुमार सिन्हा, निदेशक एनआरईपी विनय कुमार सिंकू, अनुमंडल पदाधिकारी राकेश कुमार, उप निदेशक जनसम्पर्क शालिनी वर्मा, पुलिस उपाधीक्षक अशोक कुमार सिंह, नजारत उप समाहर्ता डा0 सुदेश महतो, स्थापना उपसमाहर्ता वीर प्रकाश कमला कांत सिन्हा, बामा यादव, अमरेन्द्र यादव, राजकुमार उपाध्यक्ष, जिला शिक्षा पदाधिकारी धर्मदेव राय, उमा शंकर चैबे, संदीप कुमार जय (बमबम) बी0बी0 गुहा, धीरेन्द्रनाथ दास, रमण कुमार बर्मा, आदि उपस्थित थे।

 

%d bloggers like this: