रांगा गांव में दंपति की निर्मम हत्या, घटनास्थल पर पहुंचे एसपी

संतोष गुप्ता, पाकुड़

पाकुड़लिट्टीपाड़ा थाना क्षेत्र के रांगा गांव में कृष्णा साह और उनकी पत्नि की सोमवार की रात को हत्या कर दी गई है। रांगा गांव के डुंगरी टोला में रहने वाले 65 वर्षीय कृष्णा साह और उनकी पत्नी सुगनी देवी की हत्या घर में घुस कर की गई है। इस हत्याकांड की जांच करने के लिए खुद पाकुड़ एसपी शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल रांगा गांव मंगलवार को पहुंचे थे।

अन्य खबरः एक रंग में रंगी दिखेंगी दुमका के दुकानों की सर्टर

निर्मम तरीके से की गई दंपति की हत्या

हत्यारों ने रात के अंधेरे में वृद्ध दंपती कृष्णा साह को चाकू से गोदकर और उनकी पत्नी को चारपाई के पैर से सिर पर वार कर हत्या कर दी है। दोनों की हत्या करने के बाद हत्यारों ने घर में रखे लगभग 4 क्विंटल धान और अन्य खाद्य सामाग्री भी अपने साथ ले गए। रांगा गांव में हुए इस डबल मर्डर से आसपास के ग्रामीणों में भय का माहौल व्याप्त है।



घटनास्थल पर पहुंचे पाकुड़ एसपी

इस दोहरे हत्या की जानकारी मिलते ही पाकुड़ एसपी शैलेन्द्र प्रसाद वर्णवाल घटनास्थल पर पहुंच कर जांच की। उन्होंने हत्यारों का सुराग लगाने के लिए डॉग स्कवायड और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट को बुलाने का आदेश दिया। एसपी शैलेंद्र प्रसाद वर्णवाल ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद कहा कि हत्या के कारणों का जल्द पता लगा लिया जाएगा। पुलिस गंभीरता से मामले की जांच कर रही है। पुलिस हत्यारों को पकड़ कर जल्द ही सलाखों के भीतर कर देगी।

घर में घुस कर की गई हत्या

हत्यारे रात को छप्पर की टाली को हटाकर घर में घुसे थे। हत्यारों ने वृद्ध दंपत्ति की निर्मम हत्या कर बाहर से ताला लगा कर फरार हो गए। मंगलवार की सुबह बगल के घर में रहने वाले उनके बेटों ने बाहर ताला देखकर आवाज लगाई। लेकिन अंदर से आवाज नहीं आने पर ग्रामीणों की मदद से ताला तोड़कर घर में घुसे तो उनके होश उड़ गए। दोनों की खुन से लथपथ लाश पड़ी हुई थी।



मुढ़ी बेचकर परिवार चलाते थे दंपति

ग्रामीणों के अनुसार कृष्णा साह और उनका परिवार बेहद ही गरीब था। वे घर-घर जाकर मुढ़ी-पकौड़ी बेचकर अपना परिवार चलाते थे। ग्रामीणों ने बताया कि उनका किसी से कोई दुश्मनी भी नहीं था और वे मृदुभाषी भी थे। ऐसे में दंपत्ति की हत्या से ग्रामीण सकते में हैं।

पहले भी हुआ था हमला

रांगा गांव निवासी कृष्णा साह और उनकी पत्नी पर लगभग दो वर्ष पूर्व किसी अज्ञात व्यक्ति ने उनके घर पर जानलेवा हमला किया था। तभी उन्होंने मामले को गंभीरता से नहीं लिया था। कृष्णा साह ने दो शादी की थी। पहली पत्नी से एक बेटा है कुलेश साह, जो महेशपुर प्रखंड के बलियापतरा गांव में रहता है। पहली पत्नि की मृत्यु के पश्चात कृष्णा साह ने दूसरी शादी की, जिनसे दो बेटे हैं रतन साह और चंदन साह।



%d bloggers like this: