बिजली के तार की चपेट में मुहर्रम का जुलूस, एक शख्स की मौत

साहिबगंज। साहिबगंज के अंजुमन नगर से मंगलवार की शाम को निकली मुहर्रम की जुलूस के हाईटेशंन बिजली की तार के चपेट में आने बड़ा हादसा हो गया। बिजली की तार के संपर्क में आने से एक युवक की मौत हो गई और 6 अन्य घायल हो गये। घायलों को साहिबगंज के सदर अस्पताल में भर्ती करवाया गया। अस्पताल में झुलसे युवकों की इलाज में कोताही बरतने को लेकर मुहर्रम जुलूस में शामिल लोगों ने जमकर हंगामा किया।

कैसे हुई यह दुर्घटना

अंजुमन नगर के रहने वाले बादशाह अली ने बताया की मंगलवार शाम करीब 6 बजे अंजुमननगर का जुलूस एक टावर के पास से गुजर रहा था। इसी क्रम में हाट से सटे इमली के पेड़ के समीप जुलूस का सिफर बिजली की तार से सट गया। बिजली का दोनों तार टकराने से 11 हजार वोल्ट का तार टूटकर जुलूस पर गिर गया। तजीया के ऊपर बैठे टिक्कल अली, राजा, परवेज़ व असीम पूरी तरह से झुलस कर नीचे गिर गये। लोग सभी घायलों कॊ लेकर लोग सदर अस्पताल पहूँचे। डॉक्टर ने टिक्कल अली कॊ मृत घोषित कर दिया और अन्य घायलों को बेहतर इलाज के लिये भागलपुर रेफर कर दिया।

अस्पताल में लोगों ने किया बवाल 

अस्पताल में ड्यूटी पर एक ही चिकित्सक रहने के कारण घायलों के इलाज में कोताही बरतने का आरोप लगाते हुए जुलूस में शामिल लोगों ने जमकर बवाल किया। आक्रोशित लोगों का कहना था कि मुहर्रम जैसे अहम मौके पर अस्पताल में सिर्फ एक ही डॉक्टर का ड्यूटी पर मौजूद रहना उचित नहीं है। ऐसे मौकों पर अस्पताल में ज्यादा से ज्यादा मेडिकल स्टाफ मौजूद रहने चाहिए।

डीसी-एसपी पहुंचे सदर अस्पताल 

घटना की सूचना मिलते ही उपायुक्त शैलेश चौरसिया, एसपी पी मरूगन, सदर एसडीओ अमित प्रकाश सहित अन्य कई वरिष्ठ अधिकारी सदर अस्पताल पहुंचे। अधिकारीयों ने लोगों को को समझा-बुझा कर स्थिति को नियंत्रित करने का प्रयास किया। जिला प्रशाशन ने इस घटना के बाद सदर अस्पताल में बड़ी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

क्या कहते हैं उपायुक्त

उपायुक्त शैलश चौरसिया ने बताया की पूरी घटना पर नज़र रखी जा रही है। जिला प्रशासन इस पूरे मामले की जांच करायेगी। इसके साथ ही उपयुक्त ने सभी लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की है।

%d bloggers like this: