मेले से गायब रहने वाले पदाधिकारियों पर होगी कार्रवाईः उपायुक्त दुमका

 

बासुकीनाथ।  राजकीय श्रावणी मेला महोत्सव वासुकिनाथधाम के 7 वें दिन उपायुक्त मुकेश कुमार ने संपूर्ण मेला क्षेत्र का निरीक्षण किया एवं प्रतिनियुक्त अधिकारियों को कई महत्वपूर्ण निदेश दिये। उन्होंने कहा कि  मीडिया सेंटर में लगे सभी सी0सी0टीवी के विडियो फुटेज रिकोर्ड किये जाये ताकि जरुरत पड़ने पर इसे देखा जा सके।

मीडिया सेंटर में लगा वाई-फाई काम कर रहा है कि नहीं ? इसकी भी जाँच करते रहे ताकि प्रेस प्रतिनिधियों को अपनी स्टॉरी फाइल करने में किसी प्रकार की कठनाई ना हो।  सूचना जनसम्पर्क विभाग के निःशुल्क आवासन केन्द्र के साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखा जाय।

रौशनी की कोई कमी ना हो साथ ही विद्युत ना रहने पर जेनेरेटर के माध्यम विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करें। साइनेज के द्वारा तीनों द्वार (डाक बम द्वार, शीघ्र दर्शनम द्वार, तथा बोल बम द्वार ) को दर्शाया जाय ताकि श्रद्धालु आसानी से जलार्पण कर सके।

कंट्रोल रुम में प्रतिनियुक्त कर्मी CCTV फुटेज के माध्यम से संपूर्ण मेला क्षेत्र पर नजर रखें एवं किसी भी क्षेत्र में आपात स्थिति पैदा होने की संभवना हो तो उस क्षेत्र के संबंधित दण्डाधिकारी को शीघ्र सूचित करें।

उन्होने कहा कि मेला में बिना सूचना के अनुपस्थित पाये जाने वाले पदाधिकारियों एवं दण्डाधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। सभी पदाधिकारी एवं दण्डाधिकारी पूरे इमानदारी से अपने कर्तव्य का निर्वहण करे एवं ससमय अपनी ड्यूटी पर उपस्थित रहे।

उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार के अफवाहों पर ध्यान ना दे अगर किसी भी प्रकार की परेशानी हो तो इसकी सूचना जिला प्रशासन एवं पुलिस के अधिकारियों को दे।  सोशल मीडिया- Facebook, WhatsApp, Twitter आदि पर अफवाह फैलाये जाने वाले व्यक्ति एवं उस ग्रुप एडमिन पर साइबर एक्ट/आई पी सी के सुसंगत धाराओं के अंतर्गत कार्रवाई की जायेगी।

%d bloggers like this: