बच्चा चोरी की अफवाह पर अब तक 8 लोगों की मौत

 

जमशेदपुर।  बच्चा चोरी की अफवाह के बाद भड़की हिंसा में अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है। छह लोगों की मौत की खबर गुरूवार को ही सामने आ गई थी। शुक्रवार को दो लोगों की लाश नरवा और राजनगर से मिली। इस घटना के बाद से पुरे इलाके में भारी पुलिस बल तैनात है।

राजनगर में हुई घटना के विरोध में जमशेदपुर में लोगों ने शनिवार को उग्र विरोध-प्रदर्शन किया। जमशेदपुर में कई जगह हिंसा हुई। सुबह से ही लोगों ने टायर जला कर सड़क जाम कर दिया था। पुलिस के पहुंचने पर भीड़ ने उनको भी निशाना बना डाला। बिष्टुपुर थाना की गाड़ी में तोड़-फोड़ की गई। धतकाडीह टीओपी को तोड़ दिया गया। भीड़ पर काबु पाने के लिए पुलिस और आरपीएफ ने भीड़ पर लाठीचार्ज किया और आंसु गैस के गोले भी छोड़े।

क्या है मामला

राजनगर के शोभापुर और पदनामसाई गांव में बच्चा चोर के आरोप में गुरूवार को चार लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। बाद में यह हिंसा और बढ़ गई जिसमें अब तक कुल आठ लोगों की मौत हो चुकी है। इस घटना के दोषियों को गिरफ्तार करने और मारे गए लोगों के परिजनों को मुआवजे की मांग को लेकर मुस्लिम एकता मंच ने शनिवार को बंद को घोषणा की थी लेकिन भीड़ के उग्र हो जाने पर हिंसा फैल गई।

प्रशासन का क्या है कहना

इस घटना पर जमशेदपुर के एसएसपी अनूप टी मैथ्यू ने कहा कि बच्चा चोरी की सिर्फ अफवाह थी। ऐसी कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है।
वहीं जमशेदपुर के डीसी अमित कुमार ने कहा कि हत्यारों के खिलाफ इतनी कड़ी कार्रवाई की जाएगी कि लोग कानून को हाथ में लेने से पहले कई बार सोचेंगे।

%d bloggers like this: