विधायक निर्मला देवी और उनके बेटे ने किया सरेंडर

 

हजारीबाग।  बड़कागांव की विधायक निर्मला देवी और उनके बेटे अंकित राज ने चिरूडीह गोलीकांड मामले में सरेंडर कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका रद्द होने के बाद सोमवार को निर्मला देवी और उनके बेटे अंकित राज ने हजारीबाग कोर्ट में सरेंडर कर दिया है। दोनों को 14 दिनों के न्यायिक हिरासत में भेजा गया।

क्या था मामला

निर्मला देवी बड़कागांव सीट से कांग्रेस की विधायक हैं। निर्मला देवी और उनके पति योगेंद्र साव व अन्य पर अक्टूबर 2016 में एनटीपीसी के खिलाफ कफन सत्याग्रह आंदोलन के दौरान हिंसा फैलाने और सरकारी काम में बाधा डालने का आरोप है।

एनटीपीसी के लिए जमीन अधिग्रहण करने के खिलाफ पुलिस और ग्रामीणों में हिंसा हो गई थी। इस हिंसा में चार ग्रामीणों की मौत हो गई थी और दर्जनों लोग घायल हुए थे। इस मामले में पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।

निर्मला देवी और उनके बेटे को झारखंड हाईकोर्ट से जमानत मिल गई थी लेकिन झारखंड सरकार ने इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में अपील की। सुप्रीम कोर्ट ने निर्मला देवी और उनके बेटे की जमानत को रद्द कर दिया।

%d bloggers like this: