स्किल्ड डेवल्पमेंट की दिशा में राज्य सरकार शुरू की ठोस पहल

 

उद्योग जगत में स्किल्ड ह्यूमन रिसोर्स की बड़े पैमाने पर जरूरत है। इसे देखते हुए झारखंड सरकार ने युवाओं के स्किल डेवलपमेंड के लिए स्कूल और कॉलेज स्तर से ही प्रयास करने का विचार किया है।

राज्य सरकार के विचार को अमलीजामा पहनाने के लिए उच्च एंव तकनीकि शिक्षा सह कौशल विकास विभाग ने प्रयास शुरू कर दिया है। विभाग ने इंटर पास विद्यार्थियों के कौशल विकास के लिए प्रशिक्षण देने के लिए राज्य के 30 कॉलेजों को चुना है। इन 30 कॉलेजों में 11 महिला कॉलेज है। विद्यार्थियों को 12 ट्रेंड में प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण चार से छह महिने का होगा।

सरकार जिला स्तर पर अलग-अलग स्किल्ड वर्कर की जरूरत को देखते हुए जिले के कॉलेजों में ट्रेड का निर्धारण किया गया है। इस काम को करने के लिए कंपनियों का चयन किया जाना बाकि है। इसे जुलाई तक पूरा कर लिया जाएगा। कंपनियों का काम प्रशिक्षण देने के साथ-साथ 50 फीसदी विद्यार्थियों का प्लेसमेंट करने का भी होगा।

राज्य सरकार स्नातक में पढ़ रहे पार्ट थ्री के विद्यार्थियों के लिए भी यह योजना तैयार करने में लगी है, जिसमें कॉलेज छह महीने का प्रशिक्षण देगी.

12 ट्रेंड और सेक्टर

   ट्रेड                               सेक्टर

   ड्राफ्टमैन मेकैनिकल           कैपिटल गुड्स
   सीएनसी ऑपरेटर           कैपिटल गुड्स
   कस्टमर केयर एक्जीक्यूटिव           टेलिकॉम
   कॉफर           ऑटोमोटिव
   रूम अटेंडेंट           टी एच एस सी
   सीसीटीवी इंस्टालेशन            इलेक्ट्रॉनिक
   मल्टी क्विजीन कुक            टी एच एस सी
   फिल्ड टेक्नीशियन-नेटवर्किंग            इलेक्ट्रॉनिक
   रिटेल टीम लीडर             रिटेल
   इन्वेंटरी क्लर्क             कैपिटल गुड्स
   फिटर- इलेक्ट्रॉनिक असेंम्बल            कैपिटल गुड्स
   म्यूचुअल फण्ड एजेंट            बीएफएसआइ

 

 

 

%d bloggers like this: