झामुमो विधायक पर हुआ जानलेवा हमला

राजन राज ,जोहार खबर

 

चितरपुर : झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के गोमिया विधायक सह केंद्रीय प्रवक्ता योगेंद्र प्रसाद पर चितरपुर के चट्टी बाजार में गणपति प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुआ हमला. हमले के दौरान विधायक की स्कॉर्पियो गाड़ी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गयी है. जब विधायक के अंगरक्षक बिहारी महतो व दशरथ महतो ने हमलावरों को रोकने की कोशिश की तो उनके साथ भी मार-पिट की गयी.

 

कब हुआ ये हमला

रामगढ़ के एसपी किशोर कौशल ने कहा कि सोमवार रात 11 बजे विधायक को अपने  घर लौट रहे थे. इस बीच उनकी गाड़ी चितरपुर के गणपति विसर्जन के जुलस में फंस गयी विधायक ने जुलूस देख कर अपनी गाड़ी रोक दी. जुलूस के गुजर जाने के बाद जब उनकी गाड़ी वहां से निकलने लगी तो 20-25 की संख्या में जुटे युवकों ने उनके वाहन को रोक दिया. जब अंगरक्षकों ने उन्हें हटाना चाहा, तो उनके साथ मारपीट की गयी और हथियार छीनने का प्रयास किया गया. वाहन को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया, इसके साथ ही वाहन में बैठे विधायक के साथ मार-पिट की कोशिस की गयी.

5 युवक गिरफ्तार

गोमियो विधायक श्री प्रसाद ने इस घटना कि जानकारी एसपी को फ़ोन करके दी.इसके बाद एसपी ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएसपी सहित रजरप्पा व गोला थाने के प्रभारी को घटनास्थल पर पहुचने का निर्देश दिया. उन्होंने वहां पांच युवकों सूरजदीप पटवा, उत्तम पटवा, राजेश कुमार, सुशांत भगत व राजेश महतो को गिरफ्तार किया. लेकिन गिरफ्तार युवकों का कहना है कि हमलोग घटना में शामिल नहीं थे. दोनों अंगरक्षकों ने रजरप्पा थाना में 19 के खिलाफ नामजद व अन्य अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

जानबुझ कर किया गया मुझ पर हमला – योगेन्द्र

पत्रकारों से बात करते हुए  झामुमो के गोमिया विधायक श्री प्रसाद ने कहा कि विसर्जन जुलुस के दौरान मुझ पर जानलेवा हमला किया गया.11 बजे रात में विसर्जन जुलूस निकला था. कुछ युवक हमारे गाड़ी के पास आकर नारेबाजी  करने लगे. परिचय देने के बावजूद भी वो नहीं रुके. मेरे अंगरक्षकों ने जब भीड़ हटाने की कोशिश की, तो उन्हें धक्के मार कर उनसे हथियार छीनने का प्रयास किया गया. किसी भी  तररह वहां से हम जान बचा कर भागे. वहां से निकलने के बाद हमने इस घटना कि सूचना एसपी को दी. हमने उनसे अनुरोध किया कि इस मामले में वो एक प्राथमिकी दर्ज करे,  श्री प्रसाद ने कहा कि झारखंड में विधायक सुरक्षित नहीं है, तो जनता किस स्थिति है,इस बात का सहज अनुमान लगाया जा सकता है.आगे उन्होंने कहा कि कि हमे संदेह है कि जान बुझ कर यह हमला मुझ पर कराया गया है. यह हमला एक नियोजित प्लान के तहत कराया गया है.

 

%d bloggers like this: