आदिवासियों के बीच पैठ बढ़ाने के लिए एकजुट हुए बीजेपी नेता

 

पाकुड़।  भाजपा जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सह विधायक रामकुमार पाहन, प्रवक्ता प्रवीण प्रभाकर तथा प्रमंडल सहप्रभारी रमेश हांसदा बुधवार को लिट्टीपाड़ा पहुंचे। इन्होंने जिले के आदिवासी नेताओं-कार्यकार्यताओं के साथ लंबी बैठक की। भाजपा नेताओं ने पार्टी का जनाधार आदिवासियों के बीच बढ़ाने की रणनीति बनाई। तय किया गया कि जनजाति मोर्चा का प्रत्येक पंचायत में 21 जुलाई तक पंचायत प्रभारी एवं सहप्रभारी नियुक्त कर लिया जाएगा। आदिवासियों के बीच जनजाति मोर्चा अपनी गतिविधि लगातार बढ़ा रहा है।

बैठक में विधायक रामकुमार पाहन ने कहा कि संथालपरगना को झामुमोमुक्त किए बगैर इसका विकास संभव नहीं। हेमंत सोरेन से ज्यादा किसी ने सीएनटी-एसपीटी एक्ट का उल्लंघन नहीं किया। हेमंत नहीं चाहते की आदिवासियों का विकास हो। अगर आदिवासी जाग जाएंगे तो झामुमो की राजनीति समाप्त हो जाएगी। भाजपा विकास की राजनीति करती है।

प्रवीण प्रभाकर ने कहा कि जनता झामुमो नेताओं की हकीकत जान चुकी है, इसलिए जितने के बावजूद झामुमो का वोट लिट्टीपाड़ा में घट गया, वहीं 2009 के मुकाबले भाजपा का वोट तीन गुना बढ़ा है।

रमेश हांसदा ने कहा कि संथाल परगना में भाजपा जनजाति मोर्चा तेजी से मजबूत हो रहा है। उन्होंने कहा कि लिट्टीपाड़ा की जनता भाजपा के नेतृत्व में विकास का स्वाद चख चुकी है।

बैठक को जिला परिषद अध्यक्ष बाबुधन मुर्मू, जिलाध्यक्ष जामु मरांडी, साहेब हांसदा, दानिएल किस्कू, मनोज सोरेन, दिनेश मुर्मू, दुर्गा मरांडी, कौलेश्वर मुर्मू, कृष्णा मुर्मू आदि ने भी संबोधित किया।

%d bloggers like this: