पुलिस और अपराधियों में चली 7 राउंड गोलियां, 2 गिरफ्तार

 

पाकुड़। पाकुड़ जिले के अमड़ापाड़ा में एसपी शैलेंद्र वर्णवाल ने हथियार तस्कर दो अपराधियों को गुरूवार को गिरफ्तार किया। पाकुड़ एसपी को गुप्त सूचना मिली थी कि अमड़ापाड़ा में कुछ संदिग्ध लोग होटल में बैठे हैं। पाकुड़ एसपी तुरंत मौके पर पहुंचे। पुलिस को देख अपराधियों में हड़कंप मच गया। भागते हुए अपराधियों ने दो राउंड गोलियां भी चलाई। जिसके जवाब में एसपी शैलेंद्र वर्णवाल ने 5 राउंड गोलियां चलाई।

एसपी शैलेंद्र वर्णवाल ने पाकुड़ में पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा कि अमड़ापाड़ा से दो हथियार तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। अन्य दो फरार हो गये। गिरफ्तार लोगों के पास से एक कार्बाइन, 15 गोलियां और 4 छोटा पिस्टल बरामद हुआ है। दोनों लोग गिरीडीह जिला के रहने वाले हैं। गिरफ्तार अपराधियों से पूछताछ जारी है। वहीं पुलिस फरार अपराधियों की तलाश कर रही है।

कब हुई ये घटना

अमड़ापाड़ा के कोयला रोड के पास स्थित एक लाइन होटल में गुरूवार को करीब 5 बजे एक बोलेरो आकर रूकी। उसमें से कुछ लोग उतरे। उन्होंने होटल वाले को चाय बनाने को कहा और आपस में बात करने लगे।

होटल वाले ने बताया कि बोलेरो से कुल 6 लोग उतरे। उन्होंने चाय बनाने को कहा और आपस में बातचीत करने लगे। उनमें से एक ने 3 हजार रूपये कम होने की बात कही। 3 हजार रूपये का इंतजाम करने के लिए दो लोग बोलेरो लेकर निकल पड़े। बाकि के 4 लोग वहीं बैठे चाय और सिगरेट पीते रहे।

होटल वाले ने आगे बताया कि चाय-सिगरेट पीकर वे बैठे ही थे कि पाकुड़ एसपी शैलेंद्र वर्णवाल स्कोर्पियो से होटल पहुंच गये। उन्होंने सभी लोगों को अपनी जगह पर ही रहने को कहा। पुलिस को देख अपराधी सकते में आ गये। उनमें से दो लोग तेजी से होटल से बाहर निकल गये। भागते-भागते उन्होंने दो राउंड गोलियां चलाई। जिसके जवाब में एसपी शैलेंद्र वर्णवाल ने कुल 5 राउंड गोलियां चलाई। हालांकि वे दोनों दो अलग दिशाओं में भागने में सफल हो गए। लेकिन एसपी शैलेंद्र वर्णवाल ने दो लोगों को मौके पर ही पकड़ लिया। जिसे गिरफ्तार कर एसपी अपने साथ ले गये।

पुलिस को थी गुप्त जानकारी

पाकुड़ पुलिस को अपराधियों के आने की गुप्त जानकारी रही होगी। इसलिए इतनी तत्परता से पाकुड़ एसपी शैलेंद्र वर्णवाल दो अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफल रहे। एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि एक व्यक्ति दोपहर से ही होटल के आसपास मौजूद था। इसी व्यक्ति ने पाकुड़ एसपी को अपराधियों के आने की जानकारी दी होगी। जिसके कारण इतनी जल्दी अपराधियों को गिरफ्तार किया जा सका। वो व्यक्ति बाद में पाकुड़ एसपी के साथ ही चला गया। अमड़ापाड़ा के ग्रामीण पाकुड़ एसपी शैलेंद्र वर्णवाल की तत्परता और अपराधियों की गिरफ्तारी पर उनकी तारिफ कर रहे हैं। साथ ही ग्रामीण इस बात को लेकर भी चिंतित हैं कि इतने खतरनाक हथियार लेकर अपराधी अमड़ापाड़ा क्यों आये थे।

 

%d bloggers like this: