अंतराष्ट्रीय वुशु चैंपियनशिप में शशिकांत और पायल ने जीते पदक

रांची। मलेशिया में आयोजित अंतराष्ट्रीय वुशु चैंपियनशिप में झारखंड का प्रदर्शन शानदार रहा। झारखंड के शशिकांत महतो ने स्वर्ण पदक का खिताब अपने नाम किया। वहीं पायल कुमारी शानदार प्रदर्शन करते हुए रजत पदक जीती।

पायल और शशिकांत ने इस जीत का पूरा श्रेय अपने परिवार और कोच वाहिद अली को दिया है। शशिकांत ने बताया कि एक गरीब किसान परिवार से होते हुए भी उन्हें परिवार ने बहुत सपोर्ट किया है। जिसके कारण आज वो इस मुकाम तक पहुंच पाए हैं।

पायल एक दलित परिवार से है जो सिल्ली के हलमाद गाँव की रहने वाली है। हलमाद सहित पूरे सिल्ली क्षेत्र में खुशी का माहौल है। परिवार और प्रियजनों लोगों के बीच मिठाइयां बांट रहे है।

झारखंड के पूर्व उपमुख्यमंत्री व आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने इन खिलाड़ियों की उपलब्धि पर उन्हें बधाई दी है। बिरसा मुंडा तीरंदाजी केंद्र की नेहा महतो ने भी खिलाड़ियों को बधाई दी है।

शशिकांत और पायल राष्ट्रीय स्तर पर कई चैंपियनशिप जीते हैं। ये उनका पहला अंतरराष्ट्रीय पदक है। कोच वाहिद अली ने खिलाड़ियों के लिए कड़ी मेहनत की है। उन्होंने उम्मीद जताई कि ये दोनों खिलाड़ी आगे और पदक जीत कर देश का नाम रौशन करेंगे।

%d bloggers like this: