भारत की श्रीलंका पर शानदार जीत

 

राजन राज,जोहार खबर
पल्लेकेल।  भारतीय टीम ने श्रीलंका को तीसरे और सीरीज के आखिरी टेस्ट में एक इनिंग और 171 रन के बड़े अंतर से श्रीलंका हरा दिया। इसके साथ ही भारत ने श्रीलंका को क्लीन स्वीप करते हुए सीरीज पर अपना कब्ज़ा जमा लिया। अपने 85 साल के टेस्ट इतिहाश में भारतीय टीम ने विदेशी धरती पर पहली बार तीन या उससे ज्यादा मैचों की टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप करने का कारनामा किया है।

भारतीय टीम ने पहले बैटिंग करते हुए पहली पारी में 487 रन का स्कोर खड़ा किया। जवाब में श्रीलंकाई टीम पहली इनिंग में मात्र 135 और दूसरी पारी में 181 रन पर ढेर हो गयी।  इस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने शुरूआत से ही अपना दबदबा बनाये रखा और शानदार गेंदबाज़ी का प्रदर्शन किया।  इस मैच में मोहम्मद शमी, आर अश्विन और कुलदीप यादव को 5-5 विकेट मिले जबकि उमेश यादव ने 2 और हार्दिक पंड्या ने 1 विकेट चटकाए। अपना दूसरा टेस्ट खेल रहे हार्दिक पंड्या को “मैन ऑफ़ दी मैच” चुना गया। उन्होंने पहली पारी में ताबड़तोड़ 108 रन बनाये और 1 विकेट भी हासिल किया। वहीं, सीरीज में दो शतक लगाने वाले शिखर धवन को “मैन ऑफ द सीरीज” चुना गया।

.

कोहिली ने धोनी को पछाड़ा

महेंद्र सिंह धोनी ने बतौर कप्तान विदेश में 30 में से 6 मैचों में भारत को जीत दिलाई है। जबकि विराट कोहली ने अपनी कप्तानी में अब तक 7 टेस्ट मैच जीत चुके है। कोहिली ने अब तक कुल मिलाकर 13 मैच बतौर कप्तान खेले हैं जिनमे से 7 मैच में उन्होंने जीत हासिल की हैं। विदेश में अब तक सबसे ज्यादा मैच जीतने का रिकॉर्ड पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के नाम है, जिनकी कप्तानी में भारत ने विदेशी धरती पर 11 मैच जीते  थे।

हार्दिक पंड्या के नाम 6 नए रिकार्ड्स
हार्दिक पंड्या ने श्रीलंका के खिलाफ अपने दूसरे टेस्ट मैच में 108 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में मात्र 96 बॉल का सामना किया। जिसमेें उन्होंने 8 चौके और 7 छक्कों की मदद से अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट शतक लगाया। पंड्या टेस्ट क्रिकेट के 1 ओवर में 26 रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज भी बन गए हैं। यही नहीं लंच से पहले 100 रन बनाने वाले वो पहले भारतीय बल्लेबाज भी हैं। एक पारी में 7 छक्के लगकर उन्होंने सहवाग और हरभजन सिंह की बराबरी की। भारत के बाहर यह सबसे ज्यादा छक्का था। ऐसा लग रहा था मानो पंड्या यह टेस्ट सिर्फ रिकॉर्ड तोड़ने के लिए खेल रहे हों। पंड्या के द्वारा लगाया गया शतक विदेशी धरती पर दूसरा सबसे तेज़ शतक है और आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए यह सबसे तेज शतक है।

%d bloggers like this: