पुलिस हिरासत में युवक की मौत, भड़के ग्रामीण

साहेबगंज। साहेबगंज जिला के राजमहल में दुष्कर्म आरोपी मंतुज शेख की शनिवार सुबह पुलिस हिरासत में मौत से लोग आक्रोशित हो गए। राजमहल के फुलवरिया चौक में मृतक के परिजनों एंव स्थानीय लोगों ने सड़क जाम कर दिया। परिजनों का आरोप है कि पुलिस की मार से मंतुज की मौत हो गई है। मंतुज शेख की उम्र लगभग 25 वर्ष थी।

पुलिस का क्या है कहना

पुलिस ने मंतुज शेख को 20 साल की युवती के साथ बलात्कार और उसके बाद हत्या के मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। साहेबगंज एसडीपीओ सुनील कुमार ने बताया कि शुक्रवार रात को अचानक मंतुज शेख की तबीयत खराब होने पर अनुमंडलीय अस्पताल लाया गया। डॉक्टर ने बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया। सदर अस्पताल लाने के क्रम में रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

प्रभात खबर अखबार में प्रकाशित

ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

मंतुज शेख की मौत की खबर मिलने पर परिजनों और ग्रामीण आक्रोशित हो गए। उन्होंने राजमहल-बरहरवा मुख्य पथ को जाम कर दिया। सड़कों पर टायर जला दिया गया। लोगों के आक्रोश को देखते हुए थाना परिसर में अतिरिक्त पुलिस की तैनाती कर दी गई।

ग्रामीणों के साथ एसपी ने की बैठक

मौके पर साहेबगंज एसपी पी. मुरूगन भी पहुंच गए। एसपी पी. मुरूगन ने ग्रामीणों एंव स्थानीय नेताओं के साथ बैठक कर मामले को ठंडा किया। ग्रामीणों की मांग थी कि मृतक के परिजनों को 20 लाख रूपये, सरकारी नौकरी और दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाए।

प्रभात खबर अखबार में प्रकाशित

थाना प्रभारी और अवर निरीक्षक निलंबित

एसपी पी. मुरूगन ने तत्काल कार्रवाई करते हुए राजमहल थाना प्रभारी बीडी चौधरी और अवर निरीक्षक पवन कुमार सिंह को निलंबित कर दिया। मृतक के परजनों को सरकारी सहायता के लिए कागजी प्रक्रिया शुरू करने की बात कही।

बैठक में समझौता होने के बाद रोड जाम को हटा लिया गया। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया।

%d bloggers like this: